EL DESPERTAR SAI
EL DESPERTAR SAI: A Glimpse of the Palki Yatra in Shirdi / My Fav song of Sai / Baba as seen in Samadhi Mandir on the 15th May and 14th of May 2015 during the respective aartis A Glimpse of the Palki Yatra in Shirdi / My Fav song of Sai / Baba as seen in Samadhi Mandir on the 15th May and 14th of May 2015 during the respective aartis - EL DESPERTAR SAI

SEGUIDORES SAI EN GOOGLE

SI GUSTAS DEJAR UN COMENTARIO

Dynamic Glitter Text Generator at TextSpace.net
EN VISTAS DINÁMICAS ABRE MÁS RÁPIDO LA PÁGINA

Un momento por favor, cargando... Om Sri Sai Ram Om Sri Sai Ram Om Sri Sai Ram

SAI NARAYAN HARI
Ir a descargar


HARE KRISHNA HARE KRISHNA KRISHNA KRISHNA HARE HARE
HARE RAMA HARE RAMA RAMA RAMA HARE HARE

MENU DE ENTRADAS



CAMBIAR TAMAÑO DE LETRA MAYOR  O MENOR 

OPRIME SI NO ALCANZAS A VER BIEN EL TEXTO DE LAS PUBLICACIONES,
OPRIME LA TECLA + PARA AMPLIAR EL TEXTO A TODA LA PANTALLA, OPRIME - PARA REGRESAR A LO NORMAL.

viernes, 15 de mayo de 2015

A Glimpse of the Palki Yatra in Shirdi / My Fav song of Sai / Baba as seen in Samadhi Mandir on the 15th May and 14th of May 2015 during the respective aartis



"ये ही सत्य हैं"/ A Glimpse of the Palki Yatra in Shirdi / My Fav song of Sai / Baba as seen in Samadhi Mandir on the 15th May and 14th of May 2015 during the respective aartis

Posted: 15 May 2015 02:58 AM PDT

Om Sai Ram ! Om Shree Ganeshaya Namaha!
Om Namaha Shivaya ! Jai Maata Di !!
If for some reason you are not able to see , or download the below pictures or click to the below links - Please go to http://debu7370.blogspot.com/ You can also have access to all the previous  Shri Shirdi Sai speaks mails at the above link. And if any of you would like to receive these messages directly to your mailbox everyday--
 
 You can also find more pictures of our Sadguru Sainath and Shirdi on Facebook by liking the page below....
Message from the teachings of Shri Shirdi Saibaba for today
हे सतगुरु जी अब  आप की.....
             रहमतो की बरसात चाहता हूँ
रहें अटल विश्वास आप मे....
               मै खुद मे वो बात चाहता हूँ
कह दू दिल की बात आप से.....
       वो प्यार भरी मुलाकात चाहता हूँ
मै कर सकु आप के चरणों की सेवा...
         अपनी इतनी औकात चाहता हूँ
आप की द्रष्टी बनी रहे सदा....
      वो रहमत भरी करामात चाहता हूँ
आप मिले तो सब मिल गया मुझे......
     सदा इस सर पर आपका हाथ चाहता हूँ
 
Sai
  This song is very close to my heart. I still remember when someone forwarded this song to me about a couple of years ago - I loved it so much that I kept hearing it over and over again but since it is in Punjabi - I could not understand all the lyrics so I called my dearest rakhi brother Rana Gill and asked him to translate the entire song for me in Hindi and it was so nice of him to honour my wish in the most cutest way possible. It has been a couple of years since then and I think I completely forgot about it until today when someone forwarded me the video of that very song with the  English subtitles. No wander I always end up saying - Great is Baba and even Greater are His wonderful Leela's in my life.
Sai Bhakt
Deepa H
Incase, you are unable to see the above video- Here is the youtube link
Here is a small glimpse of the Palki yatra in Shirdi that happened yesterday ..
Incase you are unable to see the above video - Here is the youtube link
 
Baba as seen in Samadhi mandir on 15th of May 2015 during the Kakad aarti. .
( Click on the picture to see the larger view - its awesome )
Baba as seen in Samadhi mandir on 15th of May 2015 during the Madhyan aarti. .
( Click on the picture to see the larger view - its awesome )
 Baba as seen in Samadhi mandir on 14th of May 2015 during the Dhoop aarti. .
( Click on the picture to see the larger view - its awesome )
Baba as seen in Samadhi mandir on 14th of May 2015 during the Shej aarti. .
( Click on the picture to see the larger view - its awesome )

|||||||| "ये ही सत्य हैं" |||||||

Qus→ जीवन का उद्देश्य क्या है ?
Ans→ जीवन  का उद्देश्य उसी चेतना को जानना है - जो जन्म और मरण के बन्धन से मुक्त है। उसे जानना ही मोक्ष है..!!

Qus→ जन्म और मरण के बन्धन से मुक्त कौन है ?
Ans→ जिसने स्वयं को, उस आत्मा को जान लिया - वह जन्म और मरण के बन्धन से मुक्त है..!!

Qus→संसार में दुःख क्यों है ?
Ans→लालच, स्वार्थ और भय ही संसार के दुःख का मुख्य कारण हैं..!!

Qus→ ईश्वर ने दुःख की रचना क्यों की ?
Ans→ ईश्वर ने संसार की रचना की और मनुष्य ने अपने विचार और कर्मों से दुःख और सुख की रचना की..!!

Qus→ क्या ईश्वर है ? कौन है वे ? क्या रुप है उनका ? क्या वह स्त्री है या पुरुष ?
Ans→ कारण के बिना कार्य नहीं। यह संसार उस कारण के अस्तित्व का प्रमाण है। तुम हो, इसलिए वे भी है - उस महान कारण को ही आध्यात्म में 'ईश्वर' कहा गया है। वह न स्त्री है और ना ही पुरुष..!!

Qus→ भाग्य क्या है ?
Ans→हर क्रिया, हर कार्य का एक परिणाम है। परिणाम अच्छा भी हो सकता है, बुरा भी हो सकता है। यह परिणाम ही भाग्य है तथा आज का प्रयत्न ही कल का भाग्य है..!!

Qus→ इस जगत में सबसे बड़ा आश्चर्य क्या है ?
Ans→ रोज़ हजारों-लाखों लोग मरते हैं और उसे सभी देखते भी हैं, फिर भी सभी को अनंत-काल तक जीते रहने की इच्छा होती है..
इससे बड़ा आश्चर्य ओर क्या हो सकता है..!!

Qus→किस चीज को गंवाकर मनुष्य
धनी बनता है ?
Ans→ लोभ..!!

Qus→ कौन सा एकमात्र उपाय है जिससे जीवन सुखी हो जाता है?
Ans → अच्छा स्वभाव ही सुखी होने का उपाय है..!!

Qus → किस चीज़ के खो जाने
पर दुःख नहीं होता ?
Ans → क्रोध..!!

Qus→ धर्म से बढ़कर संसार में और क्या है ?
Ans → दया..!!

Qus→क्या चीज़ दुसरो को नहीं देनी चाहिए ?
Ans→ तकलीफें, धोखा..!!

Qus→ क्या चीज़ है, जो दूसरों से कभी भी नहीं लेनी चाहिए ?
Ans→ इज़्ज़त, किसी की हाय..!!

Qus→ ऐसी चीज़ जो जीवों से सब कुछ करवा सकती है ?
Ans→मज़बूरी..!!
🌸
Qus→ दुनियां की अपराजित चीज़ ?
Ans→ सत्य..!!
🌸
Qus→ दुनियां में सबसे ज़्यादा बिकने वाली चीज़ ?
Ans→ झूठ..!!
🌸
Qus→ करने लायक सुकून का
कार्य ?
Ans→ परोपकार..!!
🌸
Qus→ दुनियां की सबसे बुरी लत ?
Ans→ मोह..!!
🌸
Qus→ दुनियां का स्वर्णिम स्वप्न ?
Ans→ जिंदगी..!!
🌸
Qus→ दुनियां की अपरिवर्तनशील चीज़ ?
Ans→ मौत..!!
🌸
Qus→ ऐसी चीज़ जो स्वयं के भी समझ ना आये ?
Ans→ अपनी मूर्खता..!!
🌸
Qus→ दुनियां में कभी भी नष्ट/ नश्वर न होने वाली चीज़ ?
Ans→ आत्मा और ज्ञान..!!
🌸
Qus→ कभी न थमने वाली चीज़ ?
Ans→ समय..!!


No hay comentarios :

Publicar un comentario en la entrada

Dynamic Glitter Text Generator at TextSpace.net

SHREE SAI SANKIRTAN MALA

Dynamic Glitter Text Generator at TextSpace.net